देखा एक ख्वाब लिरिक्स (Dekha Ek Khwaab Lyrics) - Lata Mangeshkar & Kishore Kumar


देखा एक ख्वाब लिरिक्स हिंदी में (Dekha Ek Khwaab Lyrics In Hindi)

वहम ओ गुमान से दूर दूर
यकीन की हद के पास पास
दिल को भरम ये हो गया
उनको हमसे प्यार है
 
हम्म म्म..हम्म म्म..
देखा एक ख्वाब तो ये सिलसिला हुये
दूर तक निगाह में हैं गुल खिले हुये
देखा एक ख्वाब तो ये सिलसिला हुये
दूर तक निगाह में हैं गुल खिले हुये
 
आ आ आ आ आ
ये गिला है आपकी निगाहों से
फूल भी हो दरमियां तो फासले हुये
देखा एक ख्वाब तो ये सिलसिला हुये
दूर तक निगाह में हैं गुल खिले हुये
 
मेरी सांसों में बसी खुशबू तेरी
ये तेरे प्यार की है जादूगरी
हा हा आ आ आ आ
तेरी आवाज़ है हवाओं में
प्यार का रंग है फिजाओं में
धड़कन में तेरे गीत हैं मिले हुये
 
क्या कहूँ शर्म से हैं लब सिले हुये
देखा एक ख्वाब तो ये सिलसिला हुये
फूल भी हो दरमियां तो फासले हुए
 
मेरा दिल है तेरी पानाहओं में
आ छुपा लूँ तुझे मैं बाहों में
 
तेरी तस्वीर है निगाहों में
दूर तक रोशनी है राहों में
कल अगर ना रोशनी के काफ़िले हुये
प्यार के हज़ार दीप हैं जले हुये
 
देखा एक ख्वाब तो ये सिलसिला हुये
दूर तक निगाहों में हैं गुल खिले हुये
ये गिला है आपकी निगाहों से
फूल भी हो दरमियां तो फासले हुये
देखा एक ख्वाब तो ये सिलसिला हुये
दूर तक निगाह में हैं गुल खिले हुये

देखा एक ख्वाब लिरिक्स अंग्रेजी में (Dekha Ek Khwaab Lyrics In English)

Vaham O Gumaan Se Door Door
Yakeen Ki Had Ke Paas Paas
Dil Ko Bharam Ye Ho Gaya
Unko Hamse Pyaar Hai
 
Hamm Mm..Hamm Mm..
Dekha Ek Khwaab To Ye Silsila Huye
Door Tak Nigaah Mein Hain Gul Khile Huye
Dekha Ek Khwaab To Ye Silsila Huye
Door Tak Nigaah Mein Hain Gul Khile Huye
 
Aa Aa Aa Aa Aa
Ye Gila Hai Aapki Nigaahon Se
Phool Bhi Ho Darmiyaan To Faasle Huye
Dekha Ek Khwaab To Ye Silsila Huye
Door Tak Nigaah Mein Hain Gul Khile Huye
 
Meri Saanson Mein Basi Khushboo Teri
Ye Tere Pyaar Ki Hai Jaadugari
Ha Ha Aa Aa Aa Aa
Teri Aawaaz Hai Hawaon Mein
Pyaar Ka Rang Hai Fizaon Mein
Dhadkan Mein Tere Geet Hain Mile Huye
 
Kya Kahoon Sharm Se Hain Lab Sile Huye
Dekha Ek Khwaab To Ye Silsila Huye
Phool Bhi Ho Darmiyaan To Faasle Huye
 
Mera Dil Hai Teri Panaahon Mein
Aa Chhupa Loon Tujhe Main Baahon
 
Mein Teri Tasveer Hai Nigaahon Mein
Door Tak Roshni Hai Raahon Mein
Kal Agar Na Roshni Ke Kafile Huye
Pyaar Ke Hazaar Deep Hain Jale Huye
 
Dekha Ek Khwaab To Ye Silsila Huye
Door Tak Nigaahon Mein Hain Gul Khile Huye
Ye Gila Hai Aapki Nigaahon Se
Phool Bhi Ho Darmiyaan To Faasle Huye
Dekha Ek Khwaab To Ye Silsila Huye
Door Tak Nigaah Mein Hain Gul Khile Huye

Singer - Lata Mangeshkar & Kishore Kumar

और भी देखे :-

अगर आपको यह भजन अच्छा लगा हो तो कृपया इसे अन्य लोगो तक साझा करें।